IIT क्या है और कैसे करें: IIT Full Form in Hindi। IIT Kya Hai in Hindi

IIT Kya Hai, IIT kya hota Hai in Hindi:– नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप लोगों का आपके अपने वेबसाइट www.educationalpoints.in पर आज के समय में लगभग सभी विद्यार्थी और अभिभावकों ने आईआईटी का नाम तो जरूर ही सुना होगा बहुत सारे विद्यार्थियों का और उनके अभिभावकों का भी यह सपना होता है कि मेरे बच्चे का एडमिशन किसी अच्छे आईआईटी कॉलज में हो जाए और वह एक सफर इंजीनियर बन पाए लेकिन बहुत से लोगों को आईआईटी के बारे में संपूर्ण जानकारी नहीं होती है की आईआईटी क्या है (IIT Kya Hai), आईआईटी क्या होता है ( IIT Kya Hota Hai In Hindi) बहुत सारे विद्यार्थी आईआईटी में एडमिशन तो लेना चाहते हैं मगर आईआईटी के बारे में पूरी जानकारी ना होने के कारण वह आईआईटी में एडमिशन नहीं ले पाते हैं।

IIT क्या है और कैसे करें: IIT Full Form in Hindi। IIT Kya Hai in Hindi
IIT kya hai

तो दोस्तों आज के इस पोस्ट IIT Kya Hai In Hindi में हम IIT के बारे में पूरी विस्तार से चर्चा करेंगे हम इस पोस्ट में जानेंगे कि आईआईटी क्या होता है, IIT क्या है (IIT Kya Hai In Hindi) आईआईटी का मतलब क्या होता है, आईआईटी की शुरुआत किस तरह से हुई, भारत में कुल कितने आईआईटी कॉलेज हैं, आईआईटी से इंजीनियरिंग करने के क्या फायदे हैं, आईआईटी का मतलब क्या होता है इन तमाम बातों के बारे में आज हम इस नए ब्लॉग पोस्ट (IIT Kya Hai In Hindi) में पूरी विस्तार से चर्चा करेंगे तो पोस्ट शुरू करने से पहले मेरा आप लोगों से एक अनुरोध है कि आईआईटी क्या है इस बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए इस पोस्ट को कृपया पूरा पढ़ें और पोस्ट अच्छी लगे तो इस पोस्ट को अपने मित्रों के साथ भी शेयर जरूर करें जिससे कि उन्हें भी आईआईटी के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में मिल सके तो चलिए हम शुरू करते हैं अपने ब्लॉग पोस्ट को आप जानते हैं आईआईटी के बारे में संपूर्ण जानकारी हिंदी में

आईआईटी क्या है (IIT Kya Hai) – What is IIT in Hindi

IIT का पूरा नाम Indian institute of technology होता है आईआईटी को हिंदी में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान के नाम से जाना जाता है आईआईटी का मुख्य उद्देश्य इजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी में विश्‍वस्‍तरीय शिक्षा प्रदान करना है। भारत में सबसे पहले आईआईटी की स्थापना भारत सरकार के द्वारा खड़कपुर में सन 1951 में किया गया था आज वर्तमान समय में भारत के अलग अलग राज्य में कुल 23 आईआईटी कॉलेज मौजूद है, IIT ना सिर्फ भारत में बल्कि पूरे विश्व के सबसे प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थानों में से एक है, आईआईटी के माध्यम से देशभर के कई उच्च स्तरीय वैज्ञानिक, रिसर्चर, टेक्नोलॉजिस्ट और इंजीनियर निकलते है। और वो लोग देश वदेश के बड़े-बड़े कंपनियों में काम करके अपने भारत का नाम रोशन करते हैं और कई इंजीनियर जोकि आईआईटी से पास होते हैं वह लोग अपनी खुद की कंपनी शुरू करते हैं। और कुछ इंजीनियर भारत सरकार के सरकारी विभागों अपनी सेवा देते है।

IIT क्या है और कैसे करें: IIT Full Form in Hindi। IIT Kya Hai in Hindi
IIT kya Hai

आईआईटी में एडमिशन पाने के लिए विद्यार्थी को सर्वप्रथम 12वीं कक्षा पास होना होगा उसके बाद हीं वो iit jee की परीक्षा में शामिल हो सकते हैं, आईआईटी में एडमिशन पाने के लिए न्यूनतम एजुकेशन क्वालिफिकेशन 12वीं पास रखा गया है, आईआईटी की Exam को दुनिया के one of the toughest exam की श्रेणी में रखा गया है। IIT की परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए विद्यार्थी दिन रात बहुत ही कड़ी मेहनत करते हैं तब जाकर इस परीक्षा में वह सफल हो पाते हैं। जब भी इंजीनियरिंग करने की बात आती आईआईटी कॉलेज का नाम सबसे पहले दिया जाता है क्योंकि यह भारत के साथ-साथ विश्व के सबसे प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थानों में से एक है। आपको बता दें कि सभी आईआईटी कॉलेज ऑटोनोमस संस्थान है यानि इनके सारे कोर्स और नियम कायदे खुद IIT संस्थान के द्वारा ही बनाये जाते है। इन कॉलेजों में दाखिला पाने के लिए विद्यार्थी को दो परीक्षा पास करने होते हैं तभी जाकर छात्र का आईआईटी में एडमिशन हो पाता है आईआईटी कॉलेज में दाखिला पाने के लिए जो पहला एग्जाम होता है उसका नाम है -Jee Mains और दूसरे परीक्षा का नाम Jee Advance है। आईआईटीके कोर्स को b.tech कोर्स कहा जाता है आईआईटी एक स्नातक का कोर्स है आईआईटी कोर्स की समय अवधि 4 साल की होती है यानी की अगर आप आईआईटी में एडमिशन लेते हैं तो आपको डिग्री मिलने में 4 साल का समय लगेगा 4 साल के बाद ही आप आईआईटी से पास आउट हो सकेंगे।

 

IIT कैसे करें

IIT से engineering करने के लिए सबसे पहले आपको बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण होना होगा 12वीं कक्षा पास करने के बाद jee mains की परीक्षा को उत्तीर्ण करना होगा jee mains exam को क्लियर करने वाले 2.5 lac स्टूडेंट IIT college में एडमिशन के लिए jee Advance की परीक्षा देते हैं इस परीक्षा को सफलतापूर्वक पास करने वाले विद्यार्थियों को आईआईटी कॉलेज में दाखिला दिया जाता है

IIT college में अलग-अलग कोर्स होते हैं जिन्हें branches के नाम से जाना जाता है जैसे कि – सिविल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग इत्यादि और भी बहुत तरह के अलग-अलग ब्रांच होते हैं जिनके बारे में हम इस पोस्ट (Iit Kya Hai) में आगे विस्तार से चर्चा करेंगे।

आईआईटी की सबसे लोकप्रिय ब्रांच कंप्यूटर इंजीनियरिंग यानी कि सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग को माना जाता है jee Advance की परीक्षा में उच्च स्थान प्राप्त करने वाले कुछ छात्रों को ही सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग की कोर्स में दाखिला मिल पाता है। हालाकि ब्रांच यानी कि कोर्स का चुनाव छात्र अपने अनुसार करते हैं लेकिन अगर किसी विद्यार्थी को सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग की ब्रांच में एडमिशन लेना है तो उसके लिए उस छात्र को jee Advance की परीक्षा में highest मार्क्स लाने होंगे तभी उस छात्र का एडमिशन कंप्यूटर साइंस में हो पाएगा।

 

Jee mains क्या है

JEE का फुल फॉर्म Joint Entrance Exam है। Jee mains एक नेशनल लेवल पर होने वाली परीक्षा है जोकि 12वीं पास कर चुके वैसे विद्यार्थियों के लिए आयोजित कराई जाती है जो कि इंजीनियरिंग के क्षेत्र में दिलचस्पी रखते हैं और आगे चलके इंजीनियर बनना चाहते हैं। जेईई की परीक्षा को National Testing Agency (NTA) के द्वारा आयोजित कराई जाती है। एनआईटी, आईआईआईटी और सीएफटीआई कॉलेजेस में अंडरग्रेजुएशन इंजीनियरिंग कोर्सेज जैसे बीटेक और बीई में प्रवेश लेने के लिए jee mains की परीक्षा में शामिल होकर इस परीक्षा में सफल होना जरूरी है। National Testing Agency (NTA) के द्वारा Jee mains की परीक्षा को 1 साल में दो बार आयोजित कराया जाता है। JEE Mains 13 भाषाओं में आयोजित की जाती है जो English, Hindi, Assamese, Bengali, Gujarati, Kannada, Marathi, Malayalam, Odia, Punjabi, Tamil, Telugu एवं Urdu है।

छात्रों को इस बात की जानकारी अवश्य होनी चाहिए कि सिर्फ jee mains की परीक्षा को पास कर लेने से उनका एडमिशन आईआईटी कॉलेज में नहीं हो सकता है आईआईटी कॉलेज में एडमिशन प्राप्त करने के लिए उन्हें जेईईमेंस के बाद जेई एडवांस एग्जाम को भी सफलतापूर्वक क्वालीफाई करना होगा जेई एडवांस क्या है इसके बारे में हम आगे बात करेंगे

Jee mains की परीक्षा में दो पेपर सामिल होते हैं  पहला पेपर उन छात्रों के लिए होता है जो कि बीटेक में एडमिशन लेना चाहते हैं जेईई मेंस के दूसरी पेपर उन छात्रों के लिए होता है जो कि B.Arch में एडमिशन लेना चाहते हैं लेकिन ज्यादातर छात्र जे मेंस की परीक्षा इसलिए देते हैं कि वे वी टेक में एडमिशन ले सकें B.Arch में एडमिशन लेने वाले छात्रों की संख्या बहुत कम होती है

जेईई मेंस की ऑफिशियल वेबसाइट – jeemain.nta.nic.in

 

Jee Advanced क्या है

IIT Kya Hai In Hindi के पोस्ट में अब हम आगे बढ़ते हैं और जानते हैं कि Jee Advanced क्या है ?

Jee Advanced की परीक्षा जेईई मेंस परीक्षा के बाद आयोजित कराई जाती है  Joint Admission Board (JAB)  के निगरानी में जेई एडवांस की परीक्षा कराई जाती है यानी कि जेई एडवांस की परीक्षा करवाने की दायित्व Joint Admission Board (JAB) को सौंपी गई है।

जेईई एडवांस की परीक्षा iit council के द्वारा आयोजित कराई जाती है हर साल अलग-अलग आईआईटी कॉलेज जेई एडवांस की परीक्षा के लिए प्रश्न पत्र तैयार करते हैं।

Jee Advanced की परीक्षा में शामिल होने के लिए जेईई मेंस की परीक्षा को उत्तीर्ण करना अनिवार्य है अगर आप जेईई मेंस की परीक्षा में किसी कारण बस सफल नहीं होते हैं तो आप जेई एडवांस की परीक्षा में शामिल नहीं हो सकते हैं

JEE Mains की परीक्षा में शामिल हुए केवल ढाई लाख बच्चों को (केटेगरी को ध्यान में रखते हुए) JEE Advanced एग्जाम के लिए योग्य घोषित किया जाता है।

इस परीक्षा की फीस 1500 निर्धारित की गई है और लड़कियों से लिए इस परीक्षा के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाता है।

JEE advance की परीक्षा में सिर्फ वही छात्र शामिल हो सकता है जो 12th 75% अंकों के साथ पास हो (Gen & OBC : 75%, ST, SC PWD 65%)

इस परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों की उम्र 25 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।

IIT की तैयारी कब शुरू करें

अगर कोई छात्र चाहता है कि उसका एडमिशन किसी अच्छे आईआईटी कॉलेज में हो और अच्छा ब्रांच भी मिले तो उस छात्र को दसवीं पास करने के बाद 11वीं कक्षा से आईआईटी की तैयारी में लग  जाना चाहिए।

बहुत सारे छात्र जोकि आईआईटी कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं वह दसवीं पास करने के तुरंत बाद आईआईटी की तैयारी करने के लिए किसी अच्छे कोचिंग संस्थान को ज्वाइन कर लेते हैं कुछ लोग 12वीं कक्षा पास करने के बाद आईआईटी की तैयारी करते हैं लेकिन उन्हें 12वीं कक्षा पास करने के बाद आईआईटी की तैयारी करने के लिए बहुत ही कम समय मिल पाता है इसलिए जो लोग आईआईटी कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं उनको मेरा यह सवा है कि दसवीं कक्षा पास करने के तुरंत बाद आपको इस परीक्षा की तैयारी में लग जानी चाहिए। अगर आप दसवीं कक्षा पास करने के तुरंत बाद इस परीक्षा की तैयारी करते हैं तो आपको परीक्षा की तैयारी के लिए पर्याप्त समय मिल जाएगा और आप इस परीक्षा के साथ-साथ इंटरमीडिएट की परीक्षा की तैयारी भी बड़े ही आसानी से कर सकते हैं क्योंकि दोनों परीक्षाएं की सिलेबस एक दूसरे से मिलते जुलते हैं लेकिन ध्यान रहे कि आईआईटी की परीक्षा वर्ल्ड की सबसे कठिन परीक्षा में से एक है इसलिए इस परीक्षा में सफलता प्राप्त करने हेतु आपको कड़ी मेहनत करनी होगी।

इसे भी पढ़ें:- आईटीआई क्या है

IIT के लिए शैक्षणिक योग्यता

आपलोगो ने यह तो जान लिया की आईआईटी क्या है (IIT Kya Hai) आईआईटी क्या होता है। आईआईटी की तैयारी कब से शुरू करनी चाहिए। अब आपके मन में यह सवाल यह प्रश्न जरूर आता होगा कि आईआईटी में एडमिशन के लिए शैक्षणिक योग्यता (Education Qualification) क्या है ।

आईआईटी कॉलेज में एडमिशन लेने के विद्यार्थी को शैक्षणिक योग्यता के रूप में science stream (विज्ञान संकाय) से 12वीं कक्षा पास होना अनिवार्य है। Physics & Mathematics का होना अनिवार्य है जबकि तीसरे सब्जेक्ट के रूप में केमिस्ट्री या बायोटेक्नोलॉजी जरूरी है।

कुछ साल पहले तक आईआईटी में एडमिशन के लिए नियम था कि जिस छात्र का 12वीं कक्षा में 75% अंक या उससे अधिक अंक आया हो उसी विद्यार्थी का आईआईटी में एडमिशन हो सकता है लेकिन पिछले कुछ सालों से इस नियम को हटा दिया गया है।

IIT Exam Pattern

अब हम अपने इस पोस्ट (IIT Kya Hai, IIT kya hota Hai in Hindi) आगे बढ़ते हैं और जानते हैं कि आईआईटी की परीक्षा पैटर्न में क्या है

आईआईटी का परीक्षा पैटर्न कुछ इस प्रकार का है।

JEE Mains Exam Pattern For B.Tech / B.E. For B.Arch For B.Planning
विषय Physics, Chemistry & Maths Maths, Aptitude Test & Drawing Test Maths, Aptitude Test, & Planning
प्रश्नों की संख्या 75 (25 प्रश्न प्रत्येक विषय से) 77 100
समय 3 घंटे 3 घंटे 3 घंटे
अधिकतम मार्क्स 300 400 400
परीक्षा का मोड कंप्यूटर कंप्यूटर, पेन पेपर (drawing के लिए) कंप्यूटर

 

जेईई मेंस परीक्षा पैटर्न हिन्दी में।

जेईई मेंस की परीक्षा ऑनलाइन (CBT मोड में) आयोजित कराई जाती है इस परीक्षा के लिए 3 घंटे का समय दिया जाता है (मानक विकलांगता वालों के लिए 4 घंटे) परीक्षा में रसायन विज्ञान, भौतिकी गणित के विषय से प्रश्न पूछे जाते हैं

एक प्रश्न का सही उत्तर देने पर चार अंक दिए जाएंगे और एक गलत उत्तर देने पर एक अंक की कटौती कर दी जाएगी।

 

कुल कितने आईआईटी कॉलेज हैं और आईआईटी कॉलेज कहां कहां है

अब हम इस पोस्ट (आईआईटी क्या है (IIT Kya Hai) आईआईटी क्या होता है।) में जानते हैं कि भारत में कुल कितने आईआईटी कॉलेज हैं और भारत में आईआईटी कॉलेज किस किस राज्य में है।

भारत में कुल 23 आईआईटी कॉलेज हैं जिनके नाम और राज्य हम नीचे बताने जा रहे हैं

भारत में IIT कॉलेजों की सूची

नाम स्थापित राज्य
IIT खड़गपुर 1951 पश्चिम बंगाल
IIT बॉम्बे 1958 महाराष्ट्र
IIT मद्रास 1959 तमिलनाडु
IIT कानपुर 1959 उत्तर प्रदेश
IIT दिल्ली 1963 दिल्ली
IIT गुवाहाटी 1994 असम
IIT रुड़की 2001 उत्तराखंड
IIT रोपड़ 2008 पंजाब
IIT भुवनेश्वर 2008 ओडिशा
IIT गांधीनगर 2008 गुजरात
IIT हैदराबाद 2008 तेलंगाना
IIT जोधपुर 2008 राजस्थान
IIT पटना 2008 बिहार
IIT इंदौर 2009 मध्य प्रदेश
IIT मंडी 2009 हिमाचल प्रदेश
IIT (BHU)
वाराणसी
2012 उत्तर प्रदेश
IIT पलक्कड़ 2015 केरल
IIT तिरुपति 2015 आंध्र प्रदेश
IIT धनबाद 2016 झारखंड
IIT भिलाई 2016 छत्तीसगढ़
IIT धारवाड़ 2016 कर्नाटक
IIT जम्मू 2016 जम्मू & कश्मीर
IIT गोवा 2016 गोवा

भारत का सबसे पुराना आईआईटी कॉलेज आईआईटी रुड़की {IIT Roorkee) है जिसकी स्थापना सन् 1951 में उत्तराखंड राज्य में की गई थी

आईआईटी की तैयारी कैसे करें 2023

जो भी छात्र 12वीं के बाद आईआईटी की तैयारी करना चाहते हैं उनके मन में अक्सर कुछ सवाल रहते हैं जैसे कि – 12th ke baad JEE ki taiyari kaise kare, JEE ki taiyari kaise kare in Hindi, IIT में जाने के लिए मुझे क्या पढ़ाई करनी चाहिए? आईआईटी क्या है, IIT JEE KYA HAI , आईआईटी की तैयारी कहां से करें, आईआईटी की तैयारी किस प्रकार से करें कि सफल हो सके।

तो चलिए दोस्तों अब हम इस पोस्ट में आगे बढ़ते हैं और बात करते हैं कि आईआईटी की तैयारी कैसे करें?

IIT Prepration Tips In Hindi 2023 Full Information 

  1. Syllabus को अच्छी तरह से समझे
  2. अध्ययन सामग्री इकट्ठा करें
  3. एनसीईआरटी बुक्स जरूर पढ़ें
  4. पिछले दो-तीन वर्ष के प्रश्न पत्र को इकट्ठा करें और उसे सॉल्व करने की कोशिश करें
  5. हार न मानना और दृढ़निश्चय के साथ परीक्षा की तैयारी करे

इसे भी पढ़ें:- आईआईटी की तैयारी कैसे करें 

 

आईआईटी करने के फायदे

  • आईआईटी इंजीनियरिंग के क्षेत्र में भारत का सबसे बेस्ट शिक्षण संस्थान है इसमें high quality की education मिलती है
  • आईआईटी में बहुत ही अनुभवी प्रोफेसर के द्वारा पढ़ाया जाता है आईआईटी में पढ़ाने वाले प्रोफेसर अपने क्षेत्र के सर्वश्रेष्ठ होते
  • आईआईटी में अध्ययन करने वाले छात्रों को फाइनेंशियल हेल्थ के रूप में स्कॉलरशिप भी प्रदान की जाती है।
  • आईआईटी कॉलेज के अंदर पढ़ाई के अलावा बहुत सारी अदर एक्टिविटीज भी होती है जैसे कि खेल म्यूजिक स्विमिंग इत्यादि जैसे बहुत सारे एक्टिविटी आईआईटी के अंदर होते हैं जिससे कि आईआईटी के अंदर पढ़ने वाले विद्यार्थियों का मन लगा रहता है और वह आईआईटी की पढ़ाई को पूरे अच्छे से इंजॉय कर पाते हैं।
  • इस संस्थान में पढ़ने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि एक बार अगर आपका आईआईटी में एडमिशन हो गया तो बहुत सारे लोग आपको जानने लगेंगे और आपकी इज्जत बढ़ जाएगी भारत में आईआईटी के अंदर पढ़ने वाले विद्यार्थियों की एक अलग ही इज्जत होती है।
  • आईआईटी से इंजीनियरिंग करने के बाद आपको किसी अच्छे कंपनी में बहुत अच्छी सैलरी मिल सकती है।
  • आईआईटी के अंदर विद्यार्थियों को लाइब्रेरी की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाती है

 

Frequently Asked Questions about IIT Kya Hai 

आईआईटी से क्या बनते हैं? 

इन संस्थानों के माध्यम से देशभर के कई उच्च स्तरीय वैज्ञानिक, रिसर्चर, टेक्नोलॉजिस्ट और इंजीनियर निकलते है।

आईआईटी कितने साल का होता है?

यदि आप आईआईटी से बीटेक कोर्स करते हैं तो आपको 4 साल का समय लगता है और अगर आप बीटेक के साथ मास्टर डिग्री भी आईआईटी से प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको आईआईटी के अंदर 5 साल देने होंगे

निष्कर्ष

दोस्तों हमने अपने इस पोस्ट (IIT Kya Hai, IIT Kya Hota hai) में आपको आईआईटी से संबंधित सारे प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश की है आपने जाना की आईआईटी क्या है, आईआईटी क्या होता है, आईआईटी से क्या बनते हैं आईआईटी कितने साल का कोर्स होता है आईआईटीसी इंजीनियरिंग करने के क्या फायदे हैं। भारत में कुल कितने इंजीनियरिंग कॉलेज हैं और किस राज्य में स्थित है। हमें उम्मीद है कि आपने इस पोस्ट (IIT Kya Hai, IIT Kya Hota hai) को पूरा जरूर पढ़ा होगा हमने इस पोस्ट में सभी महत्वपूर्ण जानकारियां देने की पूरी कोशिश की है फिर भी अगर कोई महत्वपूर्ण जानकारी हमसे छूट गई हो तो आप उस बारे में हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। पोस्ट को समाप्त करने से पहले मेरा आप लोगों से अनुरोध है कि यह पोस्ट आप लोगों को कैसी लगी यह कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखें और अगर आपके पास आईआईटी क्या है (iit Kya in Hindi) पोस्ट से संबंधित कोई प्रश्न हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य पूछ सकते हैं इस पोस्ट को अपने मित्रों के साथ भी शेयर जरूर करें जिससे कि उन्हें भी आईआईटी के बारे में पूरी जानकारी हिन्दी में प्राप्त हो सके।

Leave a comment